Sangya Kise Kahate Hain || Sangya ke Bhed संज्ञा की परिभाषा, प्रकार

Sangya Kise Kahate Hain || Sangya ke Bhed संज्ञा की परिभाषा, प्रकार, उदाहरण

www.Encip.org

इस आर्टिकल में हम हिन्दी व्याकरण के संज्ञा के बारे में विस्तार से जानने वाले है बचपन से ही संज्ञा (Sangya), Noun in Hindi शब्द के बारे में सुनते आ रहे हैं। संज्ञा शब्द हिंदी व्याकरण का बहुत ही बेसिक और महत्वपूर्ण विषय है। संज्ञा फर्स्ट क्लास से लेकर बड़ी-बड़ी प्रतियोगी परीक्षाओं में पूछे जाने वाला विषय है। यहा हम समझेंगे की sangya kise kahate hain, संज्ञा की परिभाषा क्या होती है, संज्ञा कितने प्रकार के होते है और संज्ञा के उदाहरण उन्ह सभी को भी हम विस्तार में समझेंगे।

संज्ञा किसे कहते हैं (Sangya Kise Kahate Hain)

संज्ञा का सामान्य अर्थ होता है नाम। दूसरे शब्दों में, किसी व्यक्ति, वस्तु, स्थान, भाव आदि के नाम को संज्ञा कहते हैं जैसे – मनुष्य (जाति), अमेरिका, भारत (स्थान), बचपन, मिठास (भाव), किताब, टेबल (वस्तु) आदि।

संज्ञा के भेद (sangya ke bhed in hindi)

अभी हमने ऊपर संज्ञा की परिभाषा और उदाहरण को अच्छे से समझ लिया अब हम बात करते है की संज्ञा के कितने भेद होते है संज्ञा के पाँच भेद होते हैं

(1). व्यक्तिवाचक संज्ञा (Proper Noun) 

(2). जातिवाचक संज्ञा (Common Noun) 

(3). समूहवाचक संज्ञा (Collective Noun) 

(4). द्रव्यवाचक संज्ञा (Material Noun) 

(5). भाववाचक संज्ञा (Abstract Noun)

(1). व्यक्तिवाचक संज्ञा (vyakti vachak sangya In Hindi)

जो शब्द केवल एक व्यक्ति, वस्तु या स्थान का बोध कराते हैं उन शब्दों को व्यक्तिवाचक संज्ञा कहते हैं। जैसे- भारत, चीन (स्थान), किताब, साइकिल (वस्तु), सुरेश,रमेश,महात्मा गाँधी (व्यक्ति) आदि।

उदाहरण

  • रमेश बाहर खेल रहा है।
  • महेंद्र सिंह धोनी क्रिकेट खेलते हैं।
  • मैं भारत में रहता हूँ।
  • महाभारत एक महान ग्रन्थ है।
  • अमिताभ बच्चन कलाकार हैं।
  • अंग्रेजी दुनिया में सबसे ज़्यादा बोली जाने वाली भाषा है।

(2). जातिवाचक संज्ञा (jati vachak sangya in hindi In Hindi)

जो शब्द किसी व्यक्ति, वस्तु या स्थान की संपूर्ण जाति का बोध कराते हैं, उन शब्दों को जातिवाचक संज्ञा कहते हैं। जैसे- लड़का , लड़की , औरत , मर्द , पशु , पक्षी , फल , फूल , पत्र , पत्रिका , गाँव , देश , दिन , महीना , नदी , झील , पहाड़ , पठार आदि।

उदाहरण

  • स्कूल में बच्चे पढ़ते हैं।
  • बिल्ली चूहे खाती है।
  • पेड़ों पर पक्षी बैठे हैं
  • हिरन का शेर शिकार करते हैं।
  • सड़क पर गाड़ियां चलती हैं।
  • सभी प्रजातियों में से मनुष्य सबसे बुद्धिमान हैं।

(3). समूहवाचक संज्ञा (samuh vachak sangya In Hindi)

जिसमे व्यक्तियों या वस्तुओं के समूह का बोध होता है वह समूहवाचक संज्ञा कहलाता है। जैसे — सेना , वर्ग , सभा , गुच्छा , समिति , संघ , झुंड , घौद , परिवार , खानदान , गिरोह , दल आदि।

उदाहरण

  • भारतीय सेना दुनिया की सबसे बड़ी सेना है।
  • कल बस स्टैंड पर भीड़ जमा हो गयी।
  • मेरे परिवार में चार सदस्य हैं।
  • हाथी हमेशा झुण्ड में सफर करते हैं।
  • कालेधन पर शुरू होते ही सभा में सन्नाटा छा गया।

(4). द्रव्यवाचक संज्ञा (dravya vachak sangya In Hindi)

जिस संज्ञा से मापने या तौलनेवाली वस्तु का बोध हो , उसे द्रव्यवाचक कहते हैं। जैसे — सोना , चाँदी , हीरा , मोती , दूध , दही , तेल , घी , कोयला , पानी , लकड़ी , कपड़ा , लोहा , चूना , पत्थर , सीमेंट आदि। उपर्युक्त सभी वस्तुओं को हम किसी-न-किसी रूप में मापते या तौलते हैं। अतः ये द्रव्यवाचक संज्ञाएँ हैं।

उदाहरण

  • मेरे पास सोने के आभूषण हैं।
  • एक किलो तेल लेकर आओ।
  • मुझे दाल पसंद है।
  • मुझे चांदी के आभूषण बहुत पसंद हैं।
  • लोहा एक कठोर  है।
  • दूध पीने से ताकत बढ़ती है।

(5) भाववाचक संज्ञा (bhav vachak sangya in hindi)

जो शब्द किसी चीज़ या पदार्थ की अवस्था, दशा या भाव का बोध कराते हैं, उन शब्दों को भाववाचक संज्ञा कहते हैं। जैसे- अच्छाई , बुराई , पढ़ाई , लिखाई , जवानी , बुढ़ापा , खटास , मिठास आदि।

उदाहरण

  • ज्यादा दोड़ने से मुझे थकान हो जाती है।
  • लगातार परिश्रम करने से सफलता मिलेगी।
  • तुम्हारी  आवाज़ में बहुत मिठास है।
  • मुझे तुम्हारी आँखों में क्रोध नज़र आता है।
  • लोहा एक कठोर पदार्थ है।

More Details

  • MCB box kya hai, MCB Full Form एमसीबी क्या होती है कैसे काम करती है – Click Here
  • GK Questions in Hindi | Top 100 General Knowledge In Hindi – Click Here

Leave a Comment